प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके

प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके

प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके

प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके और घरवालों को मनाने के टोटके को अलग जाती में प्यार शादी के लिए माता-पिता को समझाने के उपाय भी कहा जाता है. आप हमारे लव मैरिज के लिए फ़ैमिली को मनाने के टोटके एक बार उपयोग करे और परिणाम देखे.

प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके
प्रेम विवाह के लिए माता-पिता को समझाने के टोटके

हमारे समाज मे बच्चों की शादी का निर्णय , बहुत हद तक , उनके माता-पिता व घर के बड़े – बुजुर्ग लेते हैं | ये परम्परा सदियों से चली आ रही हैं | आधुनिकता के इस दौर में भी प्रेम विवाह को लेकर परिवार में एक संशय की स्थति बनी रहती है |

ऐसे स्थिति में प्रेम विवाह होना तभी संभव हो पता है जब आपकी कुंडली में इसका योग हो | इस लेख के आने वाले हिस्सों में जानेंगे की प्रेम विवाह के लिए कुंडली में कोन से योग होने चाहिए तथा कोन से टोटके प्रेम विवाह के लिए प्रभावी सिद्ध होते हैं |

प्रेम विवाह के लिए घरवालों को मनाने के टोटके

प्रेम विवाह के लिए घरवालों को मनाने के टोटके, हमारे जीवन की सारी घटनाएँ हमारे कुंडली मे उपस्थित ग्रहों की दशा पर निर्भर करती हैं| कुंड़ली में कुछ ऐसे योग बनते हैं जिससे परिवार प्रेम विवाह को सहमति दे देता हैं | निम्न भावों का कुंडली में होना प्रेम विवाह के योग बनता है  –

  • यदिकुंडली में शुक्र नवम स्थान में हों तो प्रेम विवाह की संभावना होती है।
  • यदिलग्न में लग्नेश के साथ चंद्रमा भी हो।
  • पापग्रहों का प्रभाव एकादश स्थान पर न पड़ रहा हो।
  • शनि औरकेतु सातवें स्थान पर विद्यमान हों।
  • यदिराहु लग्न में लक्षित हों।
  • चंद्रमाके पाँचवें स्थान या लग्न में शुक्र हों तो भी प्रेम विवाह का योग बनता है।

यदि जातक के कुंडली मे उपरोक्त योग नहीं हों तो इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है की वह प्रेम विवाह नहीं कर सकता हैं | ज्योतिषशास्त्र मे बहुत से ऐसे टोटके हैं जिन्हें आजमाने से हमें अपना मनवांछित जीवनसाथी मिलता हैं |

यदि आप प्रेम विवाह करना चाहते हैं, और किसी कारणवश आपके घरवालें नहीं मान रहे हैं, तो आप नियमित रूप से सुबह पूजा के वक़्त इन मन्त्रों का जाप करें | इन मन्त्रों का सही विधि से उच्चारण , समय को आपके अनुकूल बनाने में मदद करेगा |

  • ऊं लक्ष्मी नारायनाय नमः इस मंत्र का प्रतिदिन स्फटिकमाला के साथ जाप करें , और  प्रेम विवाह की सफलता के लिए प्रार्थना करें | इस प्रयोग को लगातार 3 महीने तक करने पर जातक को काफी अच्छा परिणाम प्राप्त होता है |
  • ॐ सूर्यायः नमः कुंडली मे यदि सूर्य निम्न स्तर पर हों तो इसका असर विवाह पर पड़ता हैं | प्रतिदिन ब्रह्ममुहूर्त में अर्थात प्रातः 3.30 बजे के आस-पास उठकर नहा- धो कर साफ़ कपड़े पहने | तद्पश्चात , लोटे या कलश में साफ़ जल भरकर उगते हुए सूर्य की ओर खड़े होकर अर्घ देते हुए इस मंत्र को जातक को दोहराना चाहिए | ऐसा करने से कुंडली मे स्थित सूर्य की स्थिति को थोड़ा बदला जा सकता है, जिससे शादी मे आ रही अड़चनें दूर हो जाएँगी |

अलग जाती में प्यार शादी के लिए माता-पिता को समझाने के उपाय

अलग जाती में प्यार शादी के लिए माता-पिता को समझाने के उपाय, प्रेम विवाह मे तब सबसे बड़ी समस्या आ जाती हैं, जब हमारा भावी जीवनसाथी किसी दूसरी जाती का हों | आज़ के इस आधुनिक युग में भी दूसरी जाती मे शादी को एक अपराध माना जाता हैं |

हमारा समाज, माता-पिता,सगे संबंधी सभी इसके खिलाफ होते हैं | ऐसी परिस्थिति के लिए ज्योतिषशास्त्र के लाल किताब मे कुछ टोटके बताए गए हैं, जिन्हें आजमाने से हम अपने माता-पिता को दूसरी जाती मे शादी के लिए मना सकते हैं | आप भी इन टोटकों का इस्तमाल करके मनवांछित जीवन साथी पा सकते है –

  • गुरुवार के दिन नहाते वक्त पनि मे थोड़ा हल्दी मिलाकर नहाना चाहिए| नहाने के पश्चात पीला वस्त्र धरण करनी चाहिए और पीला वस्त्र दान भी करनी चाहिए| ऐसा करने से गुरु महराज प्रसन्न होते हैं| माता-पिता भी मान जाते हैं |
  • लड़कियों को गुरुवार का व्रत करनी चाहिए| गुरु महराज की कृपा से हमे अपना मनवांछित जीवनसाथी प्राप्त होता हैं |
  • एआईएम ह्रीम कलीम कालिके ‘सरवन’ मम वषयं, कुरु, कुरु सरवन कमान मैं साध्य साध्य स्वाहा: इस मंत्र का प्रतिदिन 108 बार जातक को जाप करना चाहिए | ये मंत्र इतना प्रभावकारी है की इसका असर तीन दिन मे ही दिखने लगेगा | इसके प्रभाव से माता-पिता अपने पुराने विचारधारा को भूलकर आधुनिक तरीके से दूसरी जाती में भी विवाह कराने के लिए राजी हों जाएंगे |

लव मैरिज के लिए फ़ैमिली को मनाने के टोटके

लव मैरिज के लिए फ़ैमिली को मनाने के टोटके, अगर आप लव मैरिज करना चाहते हैं पर आपके परिवार वाले इसके खिलाफ हैं तो आप नीचे बताये गए टोटकों का इस्तमाल कर सकते है | परन्तु उससे पूर्व आपके लिए निम्न मन्त्रों का उच्चारण आपके सभी टोटकों को असरदाई बनायेगा | अतः इन मन्त्रों का नितमित विधिपूर्व उच्चारण करें और अपने टोटकों को सफल बनाएं |

  • केशवी केशवाराध्या किशोरी केशवस्तुता, रूद्ररूपा रूद्र मूर्ति: रूद्राणी रूद्रदेवता: राधा- कृष्ण को प्रेम का आराध्य देवता माना जाता हैं | प्रेमी प्रेमिका को राधा- कृष्ण की मूर्ति के सामने 108 बार इस मंत्र का जाप करना चाहिए | ऐसा करने से, तीन महीने के भीतर ही प्रेम विवाह के रास्ते मे अड़चन पैदा कर रहे घरवालों का मन बदलने लगेगा |
  • ॐ क्लीं कृष्णायगोपीजन वल्लभाय स्वाहा: इस मंत्र के जाप से बहुत ही सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते हैं| इस मंत्र के प्रभाव से जातक प्रेम विवाह के रास्ते में आने वाले सभी बाधाओं को दूर कर पाते हैं और अपने घरवालों के मन को जीतने में सफल हों जाते हैं |

इन मन्त्रों के उच्चारण के उपरांत आप निम्न टोटकों का इस्तमाल कर सकते हैं –

  • शनिवार के दिन साबुत उड़द, लोहा, तिल और साबुन बाँध कर जरूरतमन्द को देने से शनि शांत होता है, जिसकी वजह से शादी मे आ रही रुकावटें दूर होती हैं |
  • काले घोड़े के नाल से बने अंगूठी को बीच वाली उँगली मे पहनने से आपके घर मे आपकी शादी के लिए और भी जल्द मच जाएगी, ऐसा होने पर जातक अपनी पसंद की विवाह करने मे सफल हो पाएंगे |

प्रेम विवाह के लिए यह बहुत आवश्यक हैं कि हम अपने परिवार का विश्वास जीते | सुखी जीवन जीने के लिए बड़ो का आशीर्वाद बहुत कामगार होता हैं | ऊपरोक्त वर्णित सभी नुस्खे ज्योतिषशास्त्र के लाल किताब से ली गयी हैं |

जातक अपनी फ़ैमिली को मनाने के लिए इन सभी नुस्खों का प्रयोग पूरे आत्मविश्वास के साथ कर सकता हैं, क्योकी ये सभी आजमाए हुए तरीक़े हैं | परंतु यह बहुत आवश्यक हैं कि जातक इनमे कोई भूल चूक ना करें| यदि आपको किसी प्रकार कि दुविधा हों, तो आप किसी अच्छे ज्योतिष से संपर्क कर सकते हैं|

प्रेम विवाह करने के टोटके

[Total: 1    Average: 5/5]